June 4, 2023

जशपुर : मनरेगा में लापरवाही करने वाले 8 CEO को कारण बताओ नोटिस

जशपुर।  छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में चल रहे मनरेगा कार्यो में लापरवाही बरतने वाले जिले के 8 जनपद के CEO को कलेक्टर महादेव कावरे ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है. इसके साथ ही तीन दिन के अंदर जवाब तलब करने को कहा है। 

इस मामले में मिला नोटिस

जिले में संचालित हो रहे मनरेगा कार्य अपूर्ण रहने के संबंध में 8 विकासखंडों के जनपद पंचायत, मुख्य कार्यपालन अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी हुआ है. जिसके तहत फरसाबहार विकासखंड के जनपद सीईओ एस.सी कछवाहा को नोटिस मिला है.

दुलदुला CEO को नोटिस

दुलदुला विकासखंड के सीईओ प्रेम सिंह मरकाम को साल 2017-18 में रायडीह ग्राम पंचायत में द्वितीय सड़क निर्माण, साल 2018-19 में गट्टीबुड़ा ग्राम पंचायत में तीन, गोड़अम्बा ग्राम पंचायत में द्वितीय सड़क निर्माण, इस तरह कुल 8 द्वितीय और तृतीय निर्माण कार्य एमआईएस रिपोर्ट में अधूरे हैं.

कुनकुरी CEO को नोटिस

कुनकरी जनपद पंचायत सीईओ रघुनाथ राम को साल 2017-18 में दाराखारिका ग्राम पंचायत का कार्य दिया गया था. जो आज तक एमआईएस रिपोर्ट में अधूरा है. जिसके लिए उन्हें नोटिस जारी किया गया है.

पत्थलगांव CEO को नोटिस

पत्थलगांव जनपद सीईओ बी.एल. सरल को भी नोटिस जारी किया गया है. साल 2017-18 में ग्राम पंचायत लुड़ेग में एक आंगनबाड़ी भवन का निर्माण कार्य अधूरा पाया गया.

मनोरा CEO को नोटिस

मनोरा जनपद सीईओ अनिल तिवारी को भी नोटिस जारी किया गया है. यह नोटिस साल 2018-19 में दो द्वितीय श्रेणी सड़क निर्माण और ग्राम पंचायत सरडीह में एक तृतीय सड़क निर्माण का काम शामिल है.

कांसाबेल CEO को नोटिस

जनपद सीईओ कांसाबेल एल.एन.सिदार को भी मनरेगा का अधूरा पाए जाने को लेकर नोटिस जारी किया गया है.

कलेक्टर ने इन बिंदुओं पर मांगा जवाब

कलेक्टर ने तीन दिन के भीतर इन बिंदुओ पर जवाब मांगा है.

  • आज तक काम अधूरा रहने का स्पष्ट कारण
  • काम कब तक पूरा हो पाएगा इसकी तारीख
  • देर होने पर जिम्मेदार अधिकारी-कर्मचारी पर क्या कार्रवाई की गई.

मुख्य खबरे