June 14, 2024

बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से फसल चौपट, दर्जनों गांव के किसानों ने कलेक्टर से की मुआवजे की मांग

बेमेतरा। छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले के साजा विधानसभा क्षेत्र के दर्जनो गांव में अचानक बिन मौसम हुई बारिश और ओलावृष्टि से किसानों के माथे में चिंता की लकीर खींच दी है। पूरा मामला बेमेतरा के साजा विधानसभा का है जहां बदले मौसम का मिजाज और झमाझम बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई जिससे सैकड़ों किसानों की फसल खराब हो गई। बताया जा रहा है कि बेमेतरा के साजा विधान सभा क्षेत्र के थान खम्हरिया क्षेत्र के दर्जनों गांव के किसानों की खेती में बोए गए फसल खराब हुए हैं। अधिक बारिश के साथ हुई ओलावृष्टि को देखने से लागत है कि बर्फ की चादर ने पूरे फसल को ढक दिया है। बर्फ का असर साजा क्षेत्र के सैकड़ों किसानों पर पड़ा।

बता दें कि बारिश से तो किसानों को कोई नुकसान नहीं है, लेकिन बिन मौसम ओलावृष्टि ने किसानों को आफत में डाल दिया है। ओलावृष्टि से किसानों की फसलें चौपट हो गई है। खेतों में लगा गेहूं, सरसों, मटर, चना,खरबूजा समेत अन्य फसलें ओलावृष्टि के कारण नुकसान हुए है वहीं खेतों में बर्फ बिछ गए है जिससे किसानों को खासा नुकसान हुआ है। इस बात को लेकर किसान कलेक्ट्रेट पहुंचे है और अपनी फसल के बीमा मुवावजा राशि की जल्द से जल्द देने मांग की।

वहीं बता दें कि साजा क्षेत्र में दर्जनों गांव के किसान जो कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत फसल बीमा करवाया है,जिससे पीड़ित किसानों द्वारा फसल का मुआवजा राशि शासन से शीघ्र दिलाने का मांग कर रहे हैं। वहीं सैकड़ों किसान फसल चौपट होने से परेशान होकर कलेक्ट्रेट पहुंचे जहां कलेक्टर से मुवावजे की मांग की। बीते शाम मौसम खराब होने से ओलावृष्टि हुआ और जिससे 100प्रतिशत दर्जनभर गांव के सभी किसानों के फसल खराब हो गया मगर कोई भी अधिकारी फसल को देखने नहीं आया।

error: Content is protected !!