July 25, 2024

CG में हुई मॉब लिंचिंग की घटना क्या है?, जिसको लेकर ओवैसी ने संघ परिवार पर उठाए सवाल…

रायपुर। AIMIM नेता और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने छत्तीसगढ़ की एक घटना को लेकर संघ परिवार के उद्देश्यों पर सवाल उठाए हैं. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के पास आरंग में मॉब लिंचिंग की कथित घटना को लेकर सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट किया. उन्होंने छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश में मुसलमानों के खिलाफ कथित हिंसा को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से सवाल किया है.

ओवैसी ने दावा किया है कि लोकसभा चुनाव रिजल्ट के बाद, देश भर में मुसलमानों पर हमलों में वृद्धि हुई है. उत्तर प्रदेश में दो मौलानाओं की हत्या कर दी गई और अकबरनगर में बुलडोजरों ने मुसलमानों के घरों को ध्वस्त कर दिया. वहीं, छत्तीसगढ़ में दो मुसलमानों की लिंचिंग की गई. ओवैसी ने सवाल किया कि क्या संघ परिवार मुसलमानों से बदला लेना चाहता है?

उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर ट्वीट किया, “चुनाव के नतीजों के बाद मुल्क के कई हिस्सों में मुसलमानों पर हमलों के वाक़ि’आत बढ़ रहे हैं. उत्तर प्रदेश में 2 मौलानाओं का क़त्ल कर दिया गया, अकबरनगर में मुसलमानों के घर पर बुलडोज़र चला दिया गया, छत्तीसगढ़ में दो मुसलमानों को Lynch कर दिया गया. क्या संघ परिवार मुसलमानों से बदला ले रहा है?”

जानिए पूरा मामला?
मिली जानकारी के अनुसार, पिछले शुक्रवार को आरंग थाना क्षेत्र में एक संगठन के सदस्यों ने मवेशी तस्करी के संदेह में एक ट्रक चालक और उसके साथियों पर कथित तौर पर हमला किया.बता दें कि इस घटना में दो व्यक्तियों की मौत हो गई और तीसरा गंभीर रूप से घायल हो गया. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और कथित मॉब लिंचिंग के संदेह में संदिग्धों की तलाश कर रही है.

पुलिस के अनुसार, रात करीब 2 बजे ट्रक सीजी 07 सीजी 3929 महासमुंद से रायपुर की ओर जा रहा था. मवेशी तस्करी के संदेह में एक संगठन विशेष के 15-20 युवकों ने नदी मोड़ के पास ट्रक को रोकने की कोशिश की. जब ट्रक नहीं रुका तो उन्होंने उसका पीछा किया और महानदी पुल पर पहुंचकर उसके पहियों के आगे लोहे की कीलें लगा दीं, जिससे ट्रक रुक गया. मिली जानकारी के अनुसार, ट्रक में उत्तर प्रदेश के सहारनपुर निवासी चांद, गुड्डू और सद्दाम सवार थे. ट्रक के रुकते ही युवकों ने उनकी कथित रूप से पिटाई की. घटना में चांद और गुड्डू की मौत हो गई, जबकि, सद्दाम बेहोशी की हालत में मिला और उसका इलाज चल रहा है.

‘घटना को लॉन्चिंग कहना ठीक नहीं है’
वहीं, इस घटना को लेकर भाजपा नेता गौरीशंकर श्रीवास का कहना है कि छत्तीसगढ़ की घटना को लिंचिंग कहना ठीक नहीं है. गौ तस्कर भागने की कोशिश कर रहे थे, जिसके चलते गिरने से कुछ की मौत हो गई. भाजपा नेता गौरीशंकर श्रीवास ने कहा कि छत्तीसगढ़ मां कौशल्या की भूमि है. यहां गौ तस्करों के लिए कोई जगह नहीं है. गौ तस्करों को यह बात समझनी होगी. पिछले पांच सालों में भूपेश सरकार में धर्मांतरण और गौ तस्करी खूब हुई है.

उन्होंने आगे कहा कि सभी को यह बात समझनी होगी कि छत्तीसगढ़ में ऐसी कोई घटना बर्दाश्त नहीं की जाएगी. आरंग में जो घटना हुई उसका मॉब लिंचिंग से कोई लेना-देना नहीं है. गौ तस्कर पुलिस को देखकर वहां से भाग रहे थे. वे पुल से कूद गए जिससे वे घायल हुई और मौत हुई. वहीं, छत्तीसगढ़ को इस तरह से बदनाम करना ओवैसी जी की जहर की खेती करना का परिणाम है जिसके लिए वे विख्यात हैं.

मुख्य खबरे

error: Content is protected !!
Exit mobile version