July 26, 2024

सुपारी किलिंग: जिस स्कूटी से आया था OP, उसी से उसके शव को बांधकर खदान में फेंका, एक आरोपी गिरफ्तार

दुर्ग। पुरानी भिलाई थाना क्षेत्र में सुपारी किलिंग का मामला सामने आया है। हथखोज हैवी इंडस्ट्रियल एरिया में मुरूम खदान में पुलिस ने शव बरामद किया है आरोपियों ने मृतक का अपहरण कर हत्या की वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस ने इस मामले में हत्या का अपराध दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार किया अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है।

दुर्ग के ग्रामीण एसपी अनंत साहू ने इस पूरे मामले में बताया है कि मृतक ओम प्रकाश साहू और आशीष तिवारी के बीच रुपयों के लेन देन का विवाद था। 31 मई की शाम आशीष ने ओम प्रकाश साहू को फोन करके अपने घर बुलाया। इसके बाद पैसों को लेकर दोनो के बीच विवाद हुआ। विवाद इतना बढ़ गया की आशीष और उसके अन्य दोस्तों ने मिलकर उसके साथ जमकर मारपीट की। और गला दबाकर हत्या कर दी।

लाश को ठिकाने लगाने के लिए सभी आरोपियों ने जिस स्कूटी से ओम प्रकाश आया था उसी से उसके शव को बांधकर हथखोज के मुरूम खदान में फेंक दिया। आशीष तिवारी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। साथ ही हत्या में शामिल उसके अन्य सहयोगियों की भी पतासाजी की जा रही है। आरोपियों ने मृतक की हत्या करके उसके घर में फोन करके पैसे की मांग भी की थी इसी आधार पर पुलिस ने आशीष तिवारी को गिरफ्तार किया है। पुलिस लगातार आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

आरोपी आशीष तिवारी पूर्व में लूट में मामले में जेल की सजा काट चुका है। वहीं मृतक भी इसी दौरान NDPS के मामले में जेल में निरुद्ध था। उसी दौरान दोनों की जान पहचान हुई। और रुपयों के पुराने लेन देन के कारण मामला हत्या तक जा पहुंचा। रुपयों का लेन देन किस कारण से था यह बात स्पष्ट नही हो पाया है। लेकिन चर्चा इस बात की है कि महादेव ऑनलाइन सट्टे के कारोबार को लेकर सुपारी किलिंग करवाई गई थी। फिलहाल दुर्ग पुलिस ने आशीष तिवारी को गिरफ्तार कर अन्य आरोपियों की तलाश को शुरू कर दिया है।

मुख्य खबरे

error: Content is protected !!